Wednesday, May 20, 2015

हिंदू ग्रंथों और ज्योतिष् मे “पुत्र संतान” के उपाय तो हैं पर आज के युग में यह अनैतिक है भाग -1



Already published in www.astrosushilworld.com
बाबा रामदेव का पुत्र जीवक बीज तो एक बानगी भर है ! बहुत सारी औषधियों का एक साथ सेवन करने से ऐसा संभव होता है की पुत्र संतान ही हो ! पर ऐसा सिर्फ़ पुत्र संतान के लिए ही है यह ग़लत है ! "पुत्री संतान" के लिए भी ऐसी औषधिया बताई गयी हैं !
क्या कहता है ज्योतिष् -
ज्योतिष् मे ऐसे नक्षत्र काल और प्रहार बताए गये हैं की यदि उस समय पति पत्नी मिलें तो पुत्र होगा दूसरे समय मे पुत्री ! आज के युग मे कुछ लोग पुत्री संतान के लिए भी उत्सुक रहते हैं !
यंत्र और तंत्र भी मनचाही संतान मे उपयोगी हैं ! कुछ विशेष मंत्र जैसे हरिवंश पूरण का "संतान गोपाल मंत्र" उनके लिए बहुत उपयोगी है जिनके संतान नही हो रही हैं ! राम चरित मानस का सिद्ध मंत्र "प्रेम मगन कौसल्या निसि दिन जात ना जान ! सुत सनेह बस माता बाल चरित कर गान " ! मंत्र की एक विशेष विधि नियम दिन नक्षत्र और विशेष समय है ! पर मैं उसको यहाँ बिल्कुल बताना नही चाहता हूँ ! मैं इस क्रिया को बिल्कुल बढ़ावा नही देना चाहता हूँ !
पुत्र प्राप्ति का एक अन्य बहुत ही शक्तिशाली और प्रभावी मंत्र है जो बिना विधि के बेकार हैं !
"नन्दादि गोकुल त्राता दाता दारिद्र्य भन्ग्जन: !
सर्वमंगल दाता सर्वकां प्रदयकः !!"
इसके अलावा गोपाल अक्षय कवच और बहुत सारे मंत्र तथा यंत्र है जो बिना विधि विधान के प्रयोग करने से निष्फल है ! इंटरनेट पर बहुत सारी सामग्री उपलब्ध है ! पर सब अपूर्ण है संभवतः ज्योतिषियों ने यह जानबूझ कर किया हो जो की प्रशांश्णीय है !
इसके अलावा नपुंसकता डोर करने तथा बन्ध्या स्त्री या barren Lady के लिए भी बहुत सारे कारगर उपाय हैं ! इन उपायों को मैं बताता हूँ क्यों की इससे किसी को संतान की प्राप्ति होती है फिर चाहे वो पुरुष संतान हो या स्त्री !
इसका अँग्रेज़ी अनुवाद जल्द ही छपेगा तथा इस शृंखला का दूसरा भाग जल्द ही प्रकाशित करूँगा !

महिला नेता BJP सरकार और मोदी के लिए बनेंगी समस्या का कारण - 2013 की भविष्यवाणी



Already published in www.astrosushilworld.com
मानव संसाधन मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी का कैबिनेट मंत्री पद बचेगा की नही यह मैं नही जानता क्यों की मेरे पास उनकी कुंडली नही है और मैं राजनेताओं से कुण्डलियां नही माँगता फिरता क्यों कि आदतन वे ग़लत कुंडली दे देते हैं ! पर 22 नवंबर 2013 को मैने साफ़ साफ़ भविष्यवाणी कर दी थी की महिलायें श्री नरेंद्र मोदी के लिए हमेशा समस्या का कारण बनेंगी ! यही बात पुनः 01 जनवरी 2015 को मैने अपनी नव वर्ष 2015 की भविष्यवाणी मे दुहराई !
पर इस भविष्यवाणी मे मैने श्री मोदी जी के अलावा पूरी पार्टी को जोड़ा था की हार फिरहाल BJP के लिए भी महिलायें प्रतिकूल साबित होंगी ! किरण बेदी के हारने के बाद कुछ लोगों ने मुझे भविष्यवाणी सच होने की भविष्यवाणी की तो मैने कहा था की बात तो ठीक है पर डॉ. बेदी केंद्र सरकार के लिए मुसीबत तो नहीं बनी ! मैने उनसे कहा था की सत्ता मे बैठी या सत्ता के आसपास वाली शक्तिशाली महिलायें BJP और केंद्र सरकार के लिए जी का जंजाल बनेंगी !
श्री नरेन्द्रा मोदी , श्री राजनाथ सिंह और BJP खुद साढ़ेसाती से भी गुजर रहे हैं ! शनि जब चंद्रमा पर या उसके एक घर आगे पीछे गोचर करता है तो साढ़ेसाती होती है ! शनि और चंद्रमा दोनो स्त्री ग्रह हैं ! BJP खुद शनि की अंतरदशा मे है ! मोदी जी चंद्रमा मे शनि की ही दशा मे खुद हैं ! अमित शाह जी राहु मे केतु की दशा मे हैं ! श्री राजनाथ सिंह जी भी बृहस्पति मे शनि की दशा मे चल रहे हैं ! तो ऐसे कोई महिला पार्टी और सरकार के लिए समस्या ना बने ऐसा कैसे हो सकता है !

Rules of Marriage Astrology Part 1



Already published in www.astrosushilworld.com

Marriages Astrology Rule – 1
If SATURN is in the 7th house and aspected by malefic, the native will remain unmarried or may cause widower hood and go to other men (other aspects should also been seen).
Marriage Astrology Rule –2
If the 7th house is owned and aspected by a benefic and similarly the 7th navamsa, the native will belong to a supremely classified lot and will be dear to his/her spouse without any doubt
Marriage Astrology Rule –3
There will be no happiness through wife in case the MOON has gone into the 7th house and the 7th lord into 12th house, and the karak (Venus) is weak.
Marriage Astrology Rule – 4
Loss of wife is to be indicated in case 7th lord is devoid of strength and is related to 6th house, 8thhouse, 12th house and or if the 7th lord is in fall.
Marriage Astrology Rule – 5
In case the 7th lord is situated in his sign of debilitation and VENUS is in 6th house or 8th house, the combination causes the destruction of wife in the 18th or 33rd year (Parashara).
Marriage Astrology Rule – 6
In the event of RAHU being placed in the 2nd house. Mars in the seventh house, the native’s house wife will die by poison, dangerous chemical, snake biting, on the day of marriage or 3rd day of marriage.
Marriage Astrology Rule – 7
If the 7th lord is placed in the 6th house, the natives spouse/wife will be sickly or native is inimical towards her, he himself is given to anger and remains devoid of happiness.
Marriage Astrology Rule – 8
If the lagna lord is in the 7th bhava and in conjunctions with a benefice planet, the person will get wife born of a good family, but if the 7th house occupied by lagna lord becoming a malefic planet/sign, the wife will be a base born woman.
Marriage Astrology Rule – 9
If a malefic planet occupying the seventh house is associated with sixth lord, second lord and lagna lord, the native may be adulterous.
Marriage Astrology Rule – 10
If a malefic planet occupying the seventh house is associated with the 6th lord, 2nd lord and lagna lord, the native might be adulterous